शुक्रवार, 26 मार्च 2021

सखियों की चौपाल (होलियाना)

 आपको वाट्सएप मैसेज किया था सुबह . अभी तक देखा नहीं!

तुम्हें पता तो है मैं नहीं देख पाता किसी का मैसेज.

किसी का मतलब? मैं 'किसी' में  हूँ.

अरे बाबा... 1000 मैसेज बिना पढ़े रखे हैं. उनकी अपडेट में तुम्हारा मैसेज नीचे चला गया होगा.

सही है वैसे. तुम्हारे फोन में वाट्सएप मैसेज पढ़ने जैसा क्या है.  (जोर से)

कैसे कैसे तो ग्रुप हैं.  फलाना समाज, ढ़िकरा कॉलोनी,  अनाप वैवाहिक विज्ञापन ग्रुप, शनाप रिटायर्ड ग्रुप, फलाने गुरूजी, आध्यात्मिक संदेश... क्या पढ़ने का मन करेगा. तुम्हें नींद आने के बाद कभी  तुम्हारा फोन चेक करती हूँ तो मैं ही बोर हो जाती हूँ... (धीमे से बड़बड़)

क्या कह रही हो. जोर से बोलो न!


कुछ नहीं. सब्जी क्या बनाऊँ!! 😊

---- –-------------–----------

सखियों की चौपाल- 

पति पत्नी दोनों सोशल मीडिया में सक्रिय हो तो आपस में झगड़ा कम होता है. दोनों उसी में लगे रहते हैं. लड़ना झगड़ना भी वहीं चलता रहता है.

मेरे पति का क्या करूँ. वो तो फेसबूक,  वाट्सएप ज्यादा चलाते ही नहीं. सरसरी नजर से देखकर रह जाते हैं. रिटायर होने के बाद घर में ही रहना पड़ता है तो सारा झगड़ा आमने सामने ही होता रहता है.

ऐसा करो. उनका  वाट्सएप नंबर अपनी सखियों वाले ग्रुप में अपडेट कर दो. फिर देखना . उसी में व्यस्त रहेंगे . तो लड़ना झगड़ना भी नहीं होगा .

ना रे. . वो तो मेरी सखियों को आँख उठा कर भी नहीं देखते. सामने हो तो आँखें नीची कर साइड से निकल जाते हैं.

तो फिर समस्या तुम्हारा पति नहीं, सखियाँ हैं.उन्हें ही बदल डालो 😂


10 टिप्‍पणियां:

  1. इतने भी सीधे न होते पति । सीधे होने का नाटक करते । चौपाल सब धरी की धरी रह जाए उनके आगे । कुछ ज्यादा सीधा न दिखा रही पति को ।
    होलियाना 😆😆😆

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. हमको मालूम है जन्नत की हकीकत लेकिन दिल बहलाने को यह खयाल अच्छा है 😂

      हटाएं
    2. फिर ठीक है .... खूब बहलाओ दिल :) :)

      हटाएं
  2. आपकी इस प्रविष्टि् की चर्चा कल रविवार (28-03-2021) को   "देख तमाशा होली का"   (चर्चा अंक-4019)    पर भी होगी। 
    -- 
    सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है। 
    --  
    रंगों के महापर्व होली और विश्व रंग मंच दिवस की
    हार्दिक शुभकामनाओं के साथ-    
    --
    सादर...! 
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक' 
    --

    जवाब देंहटाएं
  3. होली की हार्दिक शुभकामनायें आपको ...

    जवाब देंहटाएं
  4. बहुत खूब ! होली की हार्दिक शुभकामनाएँ।

    जवाब देंहटाएं
  5. क्या बात है ! होली की शुभकामनाएँ ।

    जवाब देंहटाएं