शनिवार, 17 अक्तूबर 2009

अरज सुनो सरकार


( दिवाली मीरा की )


एक दिया धरा देहरी पर
एक धरा पीपल की छाँव

एक धरा तुलसी के बिरवे
जहाँ मोरे कान्हा का ठाँव

तन दीपक मन बाती बारी
सज सोलह सीण्गार

खड़ी चौखट पर पंथ निहारु
कब आओगे द्वार ...!!

अरज सुणो सरकार...!!




**************************************************************************************





24 टिप्‍पणियां:

  1. वाह जी, बहुत बढ़िया!!

    दिवाली की शुभकामनाएँ.

    उत्तर देंहटाएं
  2. सुख औ’ समृद्धि आपके अंगना झिलमिलाएँ,
    दीपक अमन के चारों दिशाओं में जगमगाएँ
    खुशियाँ आपके द्वार पर आकर खुशी मनाएँ..
    दीपावली पर्व की आपको ढेरों मंगलकामनाएँ!

    -समीर लाल 'समीर'

    उत्तर देंहटाएं
  3. तन दीपक मन बाती बारी
    सज सोलह सीण्गार
    खडी चौखट पर पंथ निहारूं
    कब आवोगे द्वार...!!

    सुंदरतम प्रार्थना. शुभकामनाएं.

    रामराम.

    उत्तर देंहटाएं
  4. बहुत सुंदर पुकार,
    आप का धन्यवाद

    उत्तर देंहटाएं
  5. "तन दीपक मन बाती बारी ..."

    बेहद भावपूर्ण । धन्यवाद ।

    उत्तर देंहटाएं
  6. दीपावली की हार्दिक शुभकामनायें

    उत्तर देंहटाएं
  7. इतनी निश्छल सरलता को सरकार जरूर सुनते हैं। गीता में आश्वासन भी दिया है!

    उत्तर देंहटाएं
  8. सुन्दर रचना है।

    गोवर्धन-पूजा
    और भइया-दूज की शुभकामनाएँ!

    उत्तर देंहटाएं
  9. एक दीया धरा देहरी पर
    एक धरा पीपल की छाँव
    एक धरा तुलसी के बिरवे
    जहां मोरे कान्हां का ठांव

    वाह...वाह....मीरा की इन पंक्तिओं ने मोहित कर लिया .....!!

    उत्तर देंहटाएं
  10. मीरा की दीवाली तो तभी होगी जब श्याम आयेंगे ।

    उत्तर देंहटाएं
  11. अजी अगर आप ऐसे बुलाएँगी तो सरकार का दीमाग ख़राब है जो नहीं आयेंगे....अरे आना ही पडेंगा ....
    बहुत ही लुभावनी लगी आपकी कविता..
    बधाई...

    उत्तर देंहटाएं
  12. भावुकता से युक्त सुंदर अभिव्यक्ति

    उत्तर देंहटाएं
  13. विरह में जो गहराई है वह आसक्ति में नहीं ।
    आग्रह भाव ही सर्वस्व का मूल है ।
    द्वापर में ले जाने के लिये आभार ।

    उत्तर देंहटाएं
  14. भावपूर्ण शब्‍द रचना, बहुत ही सुन्‍दर प्रस्‍तुति बधाई ।

    उत्तर देंहटाएं
  15. "तम दीपक मन बाती बारी / सज सोलह सिण्गार"

    ...आह!

    उत्तर देंहटाएं
  16. Kitnee mithaas hai, geet aur iskee bhashame...gun gunate hue padha....apneeaa ko zaroor padhake suaungee...

    उत्तर देंहटाएं