बुधवार, 2 जून 2010

बेटा बीमार है .....

मेरी दो बेटियां हैं ...बेटा नहीं मगर माँ , मम्मी , मॉम आदि संबोधन दिए बगैर भी सचमुच माँ जैसा ही सम्मान देने वाले बेटे कई हैं ...उनमे से एक बहुत ही प्यारा भोला भाला सा बेटा आजकल बीमार है ...

अभी लगभग एक वर्ष पूर्व जब उसे एक डेढ़ महीने के अंतराल पर देखा तो मैं भौंचक रह गयी ...दुबला पतला सा जय बिलकुल गोल मटोल हो चुका था मात्र एक महीने में ...उसके मम्मी पापा बहुत खुश हो रहे थे उसकी सेहत को देखकर ...मगर जाने क्यों मुझे कुछ खटका सा हुआ ...अच्छी सेहत से चेहरे और आँखों में जो चमक होनी चाहिए , वह कहीं नजर नहीं आ रही थी ...बिलकुल फूला हुआ गुब्बारे जैसा ...अख़बारों में छपने वाले प्रोटीन पाउडर के विज्ञापन याद आ गए ..
" क्या बात है जय ...आजकल कुछ दवा ले रहा है क्या मोटे होने की "...डरते -डरते मैंने टोक ही दिया । भोली भाली ठेठ ग्रामीण परिवेश में पली बढ़ी उसकी माताजी को बुरा लगने का जोखिम लेते हुए भी ...

" नही चाचीजी , ऐसी कोई बात नही है ...बस आजकल जिम जा रहा हूँ कसरत करने ..." जिम के नाम से तो मेरा माथा और ठनका ...

" भाभीजी , जय से प्यार से पूछिये वो कोई दवा तो नही ले रहा , कुछ छिपा तो नही रहा है ...आजकल ऐसी दवा लेते हैं बच्चे और इनके बहुत बुरे साइड इफेक्ट होते हैं "..मैंने उसकी माताजी से कहा...

" अरे नही , आजकल आराम करने लगा है , भीगे चने खाता है इसलिए ही..."

मगर मेरी शंका का समाधान नही हुआ था ...मैं घर आने के बाद भी पति और बच्चों से कई बार अपनी चिंता जाहिर करती रही ...

जयपुर में संक्रांति त्यौहार बड़े शोरगुल और उत्साह के साथ पतंग उड़ाते हुए मनाया जाता है ... संक्रांति के दिन अपने चाचा और बहनों के साथ पतंग उड़ाने बच्चे हमारे घर ही आ जाते हैं ...पतंगों के पीछे भागते और सीढियां चढ़ते उतरते जय को देख मैं थोड़ी उलझन में थी ।

" चाचीजी , आजकल तो घुटने दुखते हैं मेरे..बुढ़ापा गाया लगता है "...वो हँसते हुए कह रहा था ...

" अभी १९-20 वर्ष की उम्र में तुम्हारे घुटनों में दर्द , चल अभी डॉक्टर को दिखा लाती हूँ " मैंने पूरी गंभीरता से कहा ...मगर जय मजाक में टालता रहा ...

ज्यादा जोर देकर मैं भी नही कह सकती थी ...

अभी ३ महीने पहले अचानक उसके पैरों में मोच आ गयी ...कई दिनों तक पहलवान से मालिश करवाने के बाद भी आराम ना मिलते देख डॉक्टर को दिखाना पड़ा ...डॉक्टर की सलाह पर कई प्रकार के टेस्ट करवाने के बाद पता चला कि दर्द सिर्फ मोच का नही था ...उन्होंने बताया कि ताकत के लिए ली जाने वाली दवाओं के साइड इफेक्ट के कारण कूल्हे की हड्डियों में रक्तसंचार रुक गया था और इसका उपचार सिर्फ ऑपरेशन ही है ...बहुत जोर देकर पूछने पर आखिर जय ने इस प्रकार की दवा लेने की बात कबूल की ..

डेढ़ महीने के अंतराल पर दोनों कूल्हों के ऑपरेशन के बाद अभी जय स्वास्थ्य लाभ कर रहा है ...अभी कम से कम छः महीने का बेड रेस्ट करना होगा ...उसके बाद ही पता चल सकेगा कि वह अपने पैरों पर कब तक खड़ा हो सकेगा ... उसका ध्यान बंटाने के लिए उससे हंसी मजाक करते हुए हम लोग भीतर से डरे हुए हैं ...क्यूंकि ऑपरेशन से शत प्रतिशत लाभ होने की गारंटी नही है ...भरपूर जीवन शक्ति और जूझने का जज्बा रखते हुए भी कई बार उसकी आँखे भर आती हैं ...हॉस्पिटल में अपने आस पास के मरीजों को जिम ना जाने और कोई दवा नही लेने की सलाह देता रहा ...

युवा होते बच्चे को इतने दिनों तक सिर्फ लेटे देखना माता पिता के लिए भी कितना दुखद है , उस बच्चे के लिए तो होगा ही ...

एक दूसरे की देखा देखी युवा पीढ़ी सबकुछ (सेहत भी )जल्दी पा जाने की जल्दी में है और चाहे अनचाहे इसके परिणाम भुगतने ही पड़ते हैं ...अभी कुछ महीने पहले जिद करके खरीदी गयी अपनी बाईक को कमरे में अपनी आँखों के सामने रखे देखकर आहें भरता रहता है , बेटियां SMS चैटिंग से बाते करते हुए उसका मन लगाने की कोशिश में लगी रहती हैं ...और जय ...इनको ही समझाता है कि ठीक होते ही तुम्हे बाईक चलाना सिखा दूंगा मगर 90 की स्पीड से कम में नहीं चलाने दूंगा ...

उसके सामने हँसते मुस्कुराते उसके माता पिता आंसुओं को छलकने नहीं देते ...अब प्रार्थना और इन्तजार के सिवा किया भी क्या जा सकता है ...

27 टिप्‍पणियां:

  1. बेटा जल्दी स्वास्थ्य लाभ करे...शुभकामनायें....

    संवेदनशील पोस्ट

    उत्तर देंहटाएं
  2. oh sahi jaankaari di...ye dekha dekhi theek nahi...vyaktitv sudhaarein...

    उत्तर देंहटाएं
  3. बेटे के स्वास्थ्यलाभ के लिये शुभकामना

    उत्तर देंहटाएं
  4. jai jaldi thik ho yahi kamna hai.........aur jim ke jo nuksan se ru-b-ru karwaya uske liye aabhar.

    उत्तर देंहटाएं
  5. जय जल्दी ठीक हो जाये ..ढेर सारी शुभकामनाये

    उत्तर देंहटाएं
  6. subh kamnayen.........aapke bete ki swasthya ke liye!!

    lekin aapke samvedanshil post ne dil aur dimag se sach me bahut bhawuk ki soch nikal rahee hai........aakhir kyon ye bachche nahi mante baat........kyon manmani karte hain.......:)

    god bless to him and you also.....:)

    उत्तर देंहटाएं
  7. प्रक्रति ने जो हमे शरीर प्रदान किया किया है उसे प्राक्रतिक रूप से ही समयानुसार पनपने देना ही श्रेस्कर है |
    आपका बेटा जल्दी से स्वास्थ लाभ करे और अपना नैसर्गिक जीवन शुरू करे शुभकामनाये |

    उत्तर देंहटाएं
  8. bachche kai baar aisa kar jate hai, bahut bariki se unko dekhna padta hai .... aapne dekha, chaliye ab bas yahi dua hai ki jai jaldi se achha ho jaye....uske mathe per mera aashish bhara haath

    उत्तर देंहटाएं
  9. ओह यह तो बहुत बुरा हुआ -जय के शीघ्र स्वास्थ्यलाभ की शुभकामनाएं -अनाबोलिक दवाओं के अपने दुष्परिणाम तो हैं ही -किसने उसे रिकमेंड किया -हद है !

    उत्तर देंहटाएं
  10. पता नही हम भारतीयो को कब अकल आयेगी?? हमारा दिमाग हमेशा गलत चीजो पर सब से पहले जाता है, ओर बिना सोचे समझे हम जुट जाते है उस काम मै, बेटे को शुभकामनाये, जल्द ठीक हो ओर उसे समझाये कि यह सब गलत है.

    उत्तर देंहटाएं
  11. बेटे के शीघ्र स्वास्थय लाभ हेतु शुभकामना!....आजकल की युवा पीढी हर जगह बस शार्टकट खोजने लगी है...

    उत्तर देंहटाएं
  12. बेटे के शीघ्र स्वास्थय लाभ हेतु शुभकामना.....

    उत्तर देंहटाएं
  13. सार्थक आलेख. इस विषय में जागरूकता की आवश्यकता है.

    उत्तर देंहटाएं
  14. दी ....... यह पोस्ट बहुत अच्छी लगी...

    उत्तर देंहटाएं
  15. ज़ल्दी ठीक हो जाए बेटा।
    संवेदनशील पोस्ट।

    उत्तर देंहटाएं
  16. जय हो इस देश के फर्जीवाड़े की
    कितनी कहानियाँ बाहर आ पाती हैं इस तरह की ?

    उत्तर देंहटाएं
  17. जय के जल्द से जल्द स्वस्थ होने की शुभकामनाएं....
    अभी हाल में ही ऐसी खबर मशहूर मॉडल और "बिग बॉस' के प्रतियोगी 'आर्यन वैद्य ' के बारे में पढ़ी. ऐसी .दवाएं लेने से उनके पूरे बाल गिर गए और बेतरह कमजोरी आ गयी. लाखों रुपये खर्च कर बाल तो वापस आ गए पर कमजोरी वैसे ही बनी हुई है खुद उन्होंने अपने ये अनुभव बांटे और सारे युवकों से ऐसी दवाओं से दूर रहने का आग्रह किया.
    ज़िन्दगी में शॉर्ट कट बिलकुल नहीं चलता,कहीं भी कभी भी.

    उत्तर देंहटाएं
  18. बिना सोचे समझे हिस्‍टोराइडस का प्रयोग घातक ही होता है, पता नहीं बच्‍चों को क्‍या होता जा रहा है? बस अब तो स्‍वास्‍थ्‍य लाभ की दुआ ही कर सकते हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  19. is mushkil ki ghadi mein ham sabhi tere apnon aur khaas karke jai ke saath hain...jo hua hai wo to galat hua hi hai...ab isse bahar nikalana hai aur swasth jeewan jeena hai...
    jai ke liye dil se dua deti hun...aur dher saara aasheerwaad bhi...

    उत्तर देंहटाएं
  20. ऐसे लेख मुझे कहीं आप से जोड़ते हैं - अपने आस पास या निज में घटित होती 'अनदेखियों' पर आप विमर्श करती हैं। सुकून मिलता है।
    मेरी शुभकामनाएँ 'बेटा' शीघ्र स्वस्थ हो ।

    उत्तर देंहटाएं
  21. ईश्वर शीघ्र ही उसे स्वस्थ बनाये। यही कामना है। बहुत रोचक जानकारी प्रदान की। आभार्। आजकल सभी फिल्मों की नकल बिना अकल के करने लग जाते हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  22. जिम बाडी कान्शस्नेस और दुनिया भर के चोचले नई पीढी को पता नही कंहा ले जायेंगे!

    उत्तर देंहटाएं
  23. bete ke sheeghatisheeghra swasth hone ki kaamana karate hain ..

    उत्तर देंहटाएं